Paroles de « Main Jahaan Rahoon Mehfil [मै जहां रहूँ] »

hindi

Main Jahaan Rahoon Mehfil [मै जहां रहूँ]

Mein jahan raho
Mein kahin bhi hoo
Teri yaad saaath hai
 
Jaane kiski talaash unaki aankhon mein thi
Aarajoo ke musaafir bhatkate rahein
Jitane bhi woh chale
Utane hi bichh gayein raah mein faasalein
Khwaab manjil thi aur manjilein khwaab thi
Raaston se nikalate rahein raaste
Jaane kis waste aarjoo ke musaafir bhatkate rahein
 
Mein jahan raho
Mein kahin bhi hoo
Teri yaad saaath hai
Kisi se kahun
Ke Nahi kahun
Yeh jo dil
Ki Baat hai
 
Kehne Ko saath
Appne Ek duniya chalti hai
Per chupke is dil mein tanhai Palti hai
Bas yaad Saath hai
Teri yaad saaath hai 3
 
Mein jahan raho
Mein kahin bhi hoo
Teri yaad saaath hai
 
Koyi puraani yaad mera rasta roke mujhse kehti hai
Itani jalati dhoop mein yuun kab tak ghumoge
Aayo, chalke bitein dino ki chhanv mein baithe
Us lamhein ki baat karein
Jisme koyi phool khila tha
Us lamhein ki baat karein ke
Jisme kisi aawaaz ki chaandi khanak uthi thi
Us lamhein ki baat karein ke
Jisme kisi nazaron ke moti barse the
Koyi puraani yaad mera rasta roke mujhse kehti hai
Itani jalati dhoop mein yuun kab tak ghumoge
 
Kahin to Dil mein yaadon ki
Ek suli gad jaati hai
Kahin har ek Tasveer bhahut hi dhondhali pad jati hai
Koi nai duniya ke naye rango mein khush rehta hai
Koi sab kuch paake bhi yeh maan hi maan kehta hai
 
Kehne Ko saath
Appne Ek duniya chalti hai
Per chupke is dil mein tanhai Palti hai
Bas yaad Saath hai
Teri yaad saaath hai 3
 
Sach toh yeh hai kasoor apana hain
Chaand ko chuune ki tamanna ki
Aasamaan ko jamin par maanga
Phool chaaha ki paththaron pe khilein
Kaanton mein ki talaash khoshboo ki
Aarjoo ki ke aag thandak de
Barf mein dhundate rahein garmi
Khwaab jo dekha chaaha sach ho jaaye
Isaki humko saja toh milani hi thi
Sach toh yeh hai kasoor apana hain
 
Kahin to bete kal ki jade
Dil mein hi utar jaati hai
kahin jo dhage tute to
Malayen bhikar jaati
Koi dil mein jagah nai baaton ke liye rakhta hai
Koi apni palko per
Yadon ke diye rakhta hai
 
Kehne Ko saath
Appne Ek duniya chalti hai
Per chupke is dil mein tanhai Palti hai
Bas yaad Saath hai
Teri yaad saaath hai 3
 
Transliteration submitted by AnandaChhetri on Mar, 03/11/2015 - 05:02
Commentaires:
i can't find the mehfil version's english translation.

मै जहां रहूँ
मै कहीं भी हूँ
तेरी याद साथ है

जाने किसकी तलाश उनकी आँखों में थी
आरज़ू के मुसाफ़िर भटकते रहे
जितना भी वह चलते
उतने ही बिछ गए राह में फ़ासले
ख्वाब मंज़िल थी और मंज़िलें ख्वाब थी
रास्तों से निकलते रहे रास्ते
जाने किस वास्ते आरज़ू के मुसाफ़िर भटकते रहे

मै जहां रहूँ
मै कहीं भी हूँ
तेरी याद साथ है
मै किसी से कहूँ
या नहीं कहूँ
ये जो दिल
की बात है

कहने को साथ अपने
एक दुनिया चलती है
पर छुपके इस दिल में
तनहाई पलती है
तेरी याद साथ है

मै जहां रहूँ
मै कहीं भी हूँ
तेरी याद साथ है

कोई पुरानी याद मेरा रास्ता रोके मुझसे कहती है
इतनी जलती धूप में यूँ कब तक घूमोगे
आओ चलकर बीतें दिनों की छाँव में बैठें
उस लमहे की बात करें जिसमे कोई फूल खिला था
उस लमहे की बात करें जिसमे किसी आवाज़ की चाँदनी खनक उठी थी
उस लमहे की बात करें जिसमे किसी नज़रों के मोती बरसे थे
कोई पुरानी याद मेरा रास्ता रोके मुझे कहती है
इतनी जलती धूप में यूँ कब तक घूमोगे

कहीं तो दिल में यादों की
एक सूली गढ़ जाती है
कहीं हर एक तसवीर बहुत ही धुंधली पढ़ जाती है
कोई नई दुनिया के नए रंगों में खुश रहता है
कोई तो सब कुछ पाके भी जे मन ही मन कहता है

कहने को साथ अपने
एक दुनिया चलती है
पर छुपके इस दिल में
तनहाई पलती है
बस याद साथ है
तेरी याद साथ है

सच तो यह है, कसूर अपना है
चाँद को छूने की तमन्ना की
आसमां को ज़मीन पर मांगा
फूल, चाहा कि पत्थरों पर खिलें
काँटों में की तलाश ख़ुशबू की
आरज़ू की, कि आग ठंडक दे
बर्फ़ में ढूंढते रहे गर्मी
ख्वाब को देखा, चाहा सच हो जाए
इसकी सज़ा तो हमे मिलनी ही थी
सच तो यह है, कसूर अपना है

कहीं तो बीते कल की जड़ें
दिल में ही उतर जाती हैं
कहीं जो धागे टूटे मालाएँ बिखर जाती हैं
कोई दिल में जगह नई बातों के लिए रखता है
कोई अपनी पलकों पर यादों के दिये रखता है

कहने को साथ अपने
एक दुनिया चलती है
पर छुपके इस दिल में
तनहाई पलती है
बस याद साथ है
तेरी याद साथ है

Publié par SAKAE le Mar, 14/03/2017 - 13:53
Modifié pour la dernière fois par SAKAE le Mer, 15/03/2017 - 18:23
Commentaires:

This kind of poetry is called Shayari(शायरी/ شاعری). And this one in particular is very special. It has only metaphors.

Vidéo

Traductions de « Main Jahaan Rahoon Mehfil [मै जहां रहूँ] »
Commentaires
SAKAE     mars 14th, 2017

Please change this song's language to Hindi, someone has not added the appropriate language.

Alma Barroca     mars 14th, 2017

It's been corrected, thanks. Can you provide the lyrics in Devanagari as this actually is a transliteration?

SAKAE     mars 15th, 2017

The so called Hindi Translation is the Original Lyrics

Alma Barroca     mars 15th, 2017

Thanks for adding it, I'll now add your translation as the base lyrics and give this transliteration a proper entry.