Advertisements

Aline (Hindi translation)

  • Artist: Christophe (Daniel Bevilacqua)
  • Also performed by: Therapie Taxi
  • Song: Aline 27 translations
  • Translations: Chinese, Croatian, Dutch, English #1, #2, #3, Finnish, German, Greek, Hebrew, Hindi, Italian, Persian #1, #2, Polish, Portuguese #1, #2, Romanian, Russian, Serbian, Spanish #1, #2, Swedish, Turkish #1, #2, Venetan, Vietnamese
French

Aline

J'avais dessiné sur le sable
Son doux visage qui me souriait
Puis il a plu sur cette plage
Dans cet orage, elle a disparu
 
Et j'ai crié, crié,
Aline, pour qu'elle revienne
Et j'ai pleuré, pleuré,
oh, j'avais trop de peine.
 
Je me suis assis près de son âme
Mais la belle dame s'était enfuie
Je l'ai cherchée sans plus y croire
Et sans un espoir, pour me guider.
 
Et j'ai crié, crié,
Aline, pour qu'elle revienne
Et j'ai pleuré, pleuré,
oh, j'avais trop de peine.
 
Je n'ai gardé
que ce doux visage
Comme une épave
sur le sable mouillé.
 
Et j'ai crié, crié,
Aline, pour qu'elle revienne
Et j'ai pleuré, pleuré,
oh, j'avais trop de peine.
 
Et j'ai crié, crié,
Aline, pour qu'elle revienne
Et j'ai pleuré, pleuré,
oh, j'avais trop de peine.
 
Submitted by scarletdulacscarletdulac on Thu, 10/01/2008 - 22:00
Hindi translationHindi
Align paragraphs
A A

एलिन

मैंने बालू पर चित्रित किया था
उसका प्यारा चेहरा जो मुझे देखकर मुस्कुराया
फिर इस समुद्र तट पर मूसलाधार बारिश हुई
और उस तूफान में, वह गायब हो गई
 
और मैंने एलिन को वापस पाने के लिए
चीख, चीख कर उसे पुकारा
और मैं रोया, बेहद रोया
ओह,मैं अत्यंत पीड़ा से गुज़र रहा था
 
मैं उसकी आत्मा के पास बैठ गया
लेकिन सुंदर महिला भाग गई थी
मैं हताशा से भर गया था और उसकी तलाश करता रहा
और मेरे पास कोई उम्मीद नहीं थी मेरा मार्गदर्शन करने के लिए।
 
और मैंने एलिन को वापस पाने के लिए
चीख, चीख कर उसे पुकारा
और मैं रोया, बेहद रोया
ओह,मैं अत्यंत पीड़ा से गुज़र रहा था
 
मेरे पास अब बस
उसका प्यारा चेहरा है
ध्वंसावशेष की तरह
गीली रेत पर।
 
और मैंने एलिन को वापस पाने के लिए
चीख, चीख कर उसे पुकारा
और मैं रोया, बेहद रोया
ओह,मैं अत्यंत पीड़ा से गुज़र रहा था
 
और मैंने एलिन को वापस पाने के लिए
चीख, चीख कर उसे पुकारा
और मैं रोया, बेहद रोया
ओह,मैं अत्यंत पीड़ा से गुज़र रहा था
 
Submitted by Ramesh MehtaRamesh Mehta on Wed, 11/09/2019 - 15:26
Comments
Advertisements
Read about music throughout history