Russia is waging a disgraceful war on Ukraine. Stand With Ukraine!

कथरी lyrics

  • Artist: Ravi Tripathi (रवि त्रिपाठी)
Oudhi
Oudhi
A A

कथरी

कथरी तोहार गुन उँ जानै, जो करै गुजारा कथरी मां
लोटईँ लरिका सयान सारा, परिवार बेचारा कथरी मां
एतनी अनमोल आहा कथरी, न मोल बिकानू हटिया मां
मूल तोहका देखा घरे घरे, सब जाने बिछाये खटिया मां
तोहरी गोदिया मां लोटी पोटी, हम खेली कूद बलवान भये
हमारे पुरखे तोहरे बल पै, गांधी, गौतम भगवान भये
तुलसी, कबीर, जायसी, सूर, सब रहे दबाये काखरि मा
कथरी तोहरे गुन उँ जानै, जो करै गुजारा कथरी मां
जेस फुलावइ कुर्बानी कइके, आपन देहियाँ नथवाइ देयाँ
दूसरे की गटइ की खातिर, आपन गटई लटकाई देयाँ
वइसे तू हमारे बारे फुरइ, सुइया दोरवा से प्यार किहु
मन मरा नहीं तन छेदी उठा, खूब दीनन कौ उपकार किहु
बस यही से महिमा बढ़ति आहौ, कथरी तोहारी गुन उँ जानौ
कथरी तोहारी गुन उँ जानौ, जे करौ गुजारा कथरी मां
तू विपति कौ साथी आहा पुर, आराम तुहीं पहूँचावा थू
भूखे नंगे लरिकन का अपनी, गोदिया तुहीं सोवावा थू
राना के सथवा गजब रहिउ, तू जंगल वाली कोठरी मां
कथरी तोहार गुन उँ जानौ, करौ गुजारा कथरी मां
 
Thanks!
Submitted by SkribblSkribbl on Sat, 22/01/2022 - 03:45
Submitter's comments:

This song is in Oudhi.

 

Comments
Read about music throughout history