Rahat Fateh Ali Khan - Tu Hi Rab, Tu Hi Dua (तू ही रब तू ही दुआ)

Advertisements
हिंदी/Romanization/लिप्यंतरण
A A

Tu Hi Rab, Tu Hi Dua (तू ही रब तू ही दुआ)

मेरी आँखों में, मेरी साँसों में
तेरा चेहरा
मेरी दिल की हर इक दीवार पे
तेरा चेहरा
तू ही है तू ही मेरा जहाँ
तू ही रब तू ही दुआ
तू ही लब तू ही ज़ुबाँ
तू ही राह तू ही मकाँ
तू रहनुमा
 
तेरे बिना तो हाल है ऐसा
जैसे आसमाँ भी ना चाँद अधूरा
रूह में शामिल तू हो जाए
होगा बस तब ही साथ यह पूरा
 
तेरे इश्क़ में मशहूर हो गए
तेरे बाज़ुओं में हम चूर हो गए
 
मेरी सुबह में मेरी शाम में
तेरा चेहरा
मेरी धूप में मेरी छाँव में
तेरा चेहरा
 
अपने दिल में झाँकके देखो
आएगा नज़र तुम्हें प्यार हमारा
आलम न पूछो मेरी तड़प का
इक पल न होगा अब तुम बिन गुज़ारा
 
मेरी बाहों में मेरी राहों में
तेरा चेहरा
मेरी आहों में मेरी पनाहों में
तेरा चेहरा
 
protidondiprotidondi द्वारा मंगल, 08/05/2012 - 08:17 को जमा किया गया
आख़िरी बार रवि, 16/02/2014 - 13:07 को ScieraSciera द्वारा संपादित
धन्यवाद!2 बार धन्यवाद मिला

 

Advertisements
Video
कमेन्ट