Reclame

कन्धों से मिलते हैं कंधे (kandhōṁ sē milatē haiṁ kandhē) ( Transliteratie)

कन्धों से मिलते हैं कंधे

कन्धों से मिलते हैं कंधे, कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे तो, दिल दुश्मन के हिलते हैं
कन्धों से मिलते हैं कंधे, कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे तो, दिल दुश्मन के हिलते हैं
अब तो हमें आगे बढ़ते है रहना
अब तो हमें साथी है बस इतना ही कहना
अब तो हमें आगे बढ़ते है रहना
अब तो हमें साथी है बस इतना ही कहना
अब जो भी हो, शोला बनके पत्थर है पिघलाना
अब जो भी हो, बादल बनके पर्बत पर है छाना
 
कन्धों से मिलते हैं कंधे, कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे तो, दिल दुश्मन के हिलते हैं
कन्धों से मिलते हैं कंधे, कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे तो, दिल दुश्मन के हिलते हैं
 
निकले हैं मैदां में, हम जान हथेली पर लेकर
अब देखो दम लेंगे हम जाके अपने मंजिल पर
खतरों से हँसके खेलना, इतनी तो हममें हिम्मत है
मोड़े कलाई मौत की, इतनी तो हममे ताकत है
हम सरहदों के वासते, लोहे की इक दिवार हैं
हम दुश्मनों के वासते, हुसियार हैं तैयार हैं
अब जो भी हो, शोला बनके पत्थर है पिघलाना
अब जो भी हो, बादल बनके पर्बत पर है छाना
 
कन्धों से मिलते हैं कंधे, कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे तो, दिल दुश्मन के हिलते हैं
कन्धों से मिलते हैं कंधे, कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे तो, दिल दुश्मन के हिलते हैं
 
जोश दिल में जगाते चलो, जित के गीत गाते चलो
जोश दिल में जगाते चलो, जित के गीत गाते चलो
जित की जो तस्वीर बनाने हम निकले हैं
अपने लहू से हमको इसमें रंग भरना है
साथी मैंने अपने दिल में अब ये ठान लिया है
या तो अब करना है, या तो अब मरना है
चाहे अंगार बरसे के बिजली गिरे, तू अकेला नहीं होगा यारा मेरे
कोई मुश्किल हो या हो कोई मोर्चा, साथ हर मोड़ पर होंगे साथी तेरे
अब जो भी हो, शोला बनके पत्थर है पिघलाना
अब जो भी हो, बादल बनके पर्बत पर है छाना
 
कन्धों से मिलते हैं कंधे, कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे तो, दिल दुश्मन के हिलते हैं
कन्धों से मिलते हैं कंधे, कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे तो, दिल दुश्मन के हिलते हैं
 
इक चेहरा अक्सर मुझे याद आता है, इस दिल को चुपके चुपके तड़पता है
जब घर से कोई भी खत आया है, कागज को मैंने भीगा भीगा पाया है
ओ पलकों पे यादों के कुछ दिप जैसे जलते हैं
कुछ सपने ऐसे हैं जो साथसाथ चलते हैं
कोई सपना ना टूटे, कोई वादा ना टूटे
तुम चाहो जिसे दिल से, वो तुमसे ना रूठे
अब जो भी हो, शोला बनके पत्थर है पिघलाना
अब जो भी हो, बादल बनके पर्बत पर है छाना
 
कन्धों से मिलते हैं कंधे, कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे तो, दिल दुश्मन के हिलते हैं
कन्धों से मिलते हैं कंधे, कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे तो, दिल दुश्मन के हिलते हैं
 
चलता है जो ये कारवां, गुंजी सी है ये वादियां
है ये जमीं, है ये आसमां ,है ये हवा, है ये समा
हर रस्ते ने, हर वादी ने , हर पर्बत ने सदा दी है
हम जीतेंगे, हम जीतेंगे, हम जीतेंगे हर बाज़ी
 
कन्धों से मिलते हैं कंधे, कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे तो, दिल दुश्मन के हिलते हैं
कन्धों से मिलते हैं कंधे, कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे तो, दिल दुश्मन के हिलते हैं
कन्धों से मिलते हैं कंधे, कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे तो, दिल दुश्मन के हिलते हैं
कन्धों से मिलते हैं कंधे, कदमों से कदम मिलते हैं
हम चलते हैं जब ऐसे तो, दिल दुश्मन के हिलते हैं
 
Toegevoegd door PrathameshPrathamesh op Ma, 26/07/2021 - 14:39
Transliteratie
Align paragraphs

Kandhon Se Milte Hain Kandhe

Kandhoṁ se milte haiṁ kandhe, kadmoṁ se kadam milte haiṁ
Ham calte haiṁ jab aise to, dil duśman ke hilte haiṁ
Kandhoṁ se milte haiṁ kandhe, kadmoṁ se kadam milte haiṁ
Ham calte haiṁ jab aise to, dil duśman ke hilte haiṁ
Ab to hameṁ āge bar̤hte hai rahnā
Ab to hameṁ sāthī hai bas itnā hī kahnā
Ab to hameṁ āge bar̤hte hai rahnā
Ab to hameṁ sāthī hai bas itnā hī kahnā
Ab jo bhī ho, śolā banke patthar hai pighlānā
Ab jo bhī ho, bādal banke parbat par hai chānā
 
Kandhoṁ se milte haiṁ kandhe, kadmoṁ se kadam milte haiṁ
Ham calte haiṁ jab aise to, dil duśman ke hilte haiṁ
Kandhoṁ se milte haiṁ kandhe, kadmoṁ se kadam milte haiṁ
Ham calte haiṁ jab aise to, dil duśman ke hilte haiṁ
 
Nikle haiṁ maidāṁ meṁ, ham jān hathelī par lekar
Ab dekho dam leṅge ham jāke apne mañjil par
Khatroṁ se ham̐ske khelnā, itnī to hammeṁ himmat hai
Mor̤e kalāī maut kī, itnī to hamme tākat hai
Ham sarhadoṁ ke vāste, lohe kī ik divār haiṁ
Ham duśmanoṁ ke vāste, husiyār haiṁ taiyār haiṁ
Ab jo bhī ho, śolā banke patthar hai pighlānā
Ab jo bhī ho, bādal banke parbat par hai chānā
 
Kandhoṁ se milte haiṁ kandhe, kadmoṁ se kadam milte haiṁ
Ham calte haiṁ jab aise to, dil duśman ke hilte haiṁ
Kandhoṁ se milte haiṁ kandhe, kadmoṁ se kadam milte haiṁ
Ham calte haiṁ jab aise to, dil duśman ke hilte haiṁ
 
Joś dil meṁ jagāte calo, jit ke gīt gāte calo
Joś dil meṁ jagāte calo, jit ke gīt gāte calo
Jit kī jo tasvīr banāne ham nikle haiṁ
Apne lahū se hamko ismeṁ raṅg bharnā hai
Sāthī maiṁne apne dil meṁ ab ye ṭhān liyā hai
Yā to ab karnā hai, yā to ab marnā hai
Cāhe aṅgār barse ke bijlī gire, tū akelā nahīṁ hogā yārā mere
Koī muśkil ho yā ho koī morcā, sāth har mor̤ par hoṅge sāthī tere
Ab jo bhī ho, śolā banke patthar hai pighlānā
Ab jo bhī ho, bādal banke parbat par hai chānā
 
Kandhoṁ se milte haiṁ kandhe, kadmoṁ se kadam milte haiṁ
Ham calte haiṁ jab aise to, dil duśman ke hilte haiṁ
Kandhoṁ se milte haiṁ kandhe, kadmoṁ se kadam milte haiṁ
Ham calte haiṁ jab aise to, dil duśman ke hilte haiṁ
 
Ik cehrā aksar mujhe yād ātā hai, is dil ko cupke cupke tar̤patā hai
Jab ghar se koī bhī khat āyā hai, kāgaj ko maiṁne bhīgā bhīgā pāyā hai
O palkoṁ pe yādoṁ ke kuch dip jaise jalte haiṁ
Kuch sapne aise haiṁ jo sāthsāth calte haiṁ
Koī sapnā nā ṭūṭe, koī vādā nā ṭūṭe
Tum cāho jise dil se, vo tumse nā rūṭhe
Ab jo bhī ho, śolā banke patthar hai pighlānā
Ab jo bhī ho, bādal banke parbat par hai chānā
 
Kandhoṁ se milte haiṁ kandhe, kadmoṁ se kadam milte haiṁ
Ham calte haiṁ jab aise to, dil duśman ke hilte haiṁ
Kandhoṁ se milte haiṁ kandhe, kadmoṁ se kadam milte haiṁ
Ham calte haiṁ jab aise to, dil duśman ke hilte haiṁ
 
Caltā hai jo ye kārvāṁ, guñjī sī hai ye vādiyāṁ
Hai ye jamīṁ, hai ye āsmāṁ ,hai ye havā, hai ye samā
Har raste ne, har vādī ne , har parbat ne sadā dī hai
Ham jīteṅge, ham jīteṅge, ham jīteṅge har bāzī
 
Kandhoṁ se milte haiṁ kandhe, kadmoṁ se kadam milte haiṁ
Ham calte haiṁ jab aise to, dil duśman ke hilte haiṁ
Kandhoṁ se milte haiṁ kandhe, kadmoṁ se kadam milte haiṁ
Ham calte haiṁ jab aise to, dil duśman ke hilte haiṁ
Kandhoṁ se milte haiṁ kandhe, kadmoṁ se kadam milte haiṁ
Ham calte haiṁ jab aise to, dil duśman ke hilte haiṁ
Kandhoṁ se milte haiṁ kandhe, kadmoṁ se kadam milte haiṁ
Ham calte haiṁ jab aise to, dil duśman ke hilte haiṁ
 
Bedankt!

ଓଡ଼ିଆ ଗୀତିକାବ୍ୟ

Toegevoegd door PrathameshPrathamesh op Ma, 26/07/2021 - 14:39
Vertalingen van "कन्धों से मिलते हैं ..."
Transliteratie Prathamesh
Reacties
Read about music throughout history